For the best experience, open
https://m.chhattisgarhtak.in
on your mobile browser.
Advertisement Whatsapp share

Interim Union Budget 2024- सीएम साय, शर्मा, सिंहदेव, ओपी, बैज सब ने बता दिया कैसा है बजट?

01:33 PM Feb 02, 2024 IST | ChhattisgarhTak
Advertisement
interim union budget 2024  सीएम साय  शर्मा  सिंहदेव  ओपी  बैज सब ने बता दिया कैसा है बजट
बजट-2024

Politics on Budget 2024- 2024-25 के अंतरिम केंद्रीय बजट पर छत्तीसगढ़ के नेताओं ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है. मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने गुरुवार को 2024-25 के अंतरिम केंद्रीय बजट की सराहना करते हुए कहा कि यह गरीबों, महिलाओं, युवाओं और किसानों के सशक्तिकरण पर केंद्रित है और 2047 तक भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाने के लक्ष्य को साकार करने में मदद करेगा. वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज ने इस बजट को निराशाजनक करार दिया है और कहा कि जनता इसका माकूल जवाब देगी. उपमुख्यमंत्री विजय शर्मा, पूर्व उप मुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव, वित्त मंत्री ओपी चौधरी और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंह देव ने भी बजट पर टिप्पणी की है.

Advertisement

सीएम सीय ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से लोकसभा में पेश किया गया अंतरिम बजट या वोट ऑन अकाउंट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देश की जनता को दी गई गारंटी को पूरा करने में मील का पत्थर साबित होगा. साय ने कहा कि बजट गरीबों, महिलाओं, युवाओं और किसानों के सशक्तिकरण पर केंद्रित है.

बजट पर आर क्या बोले साय?

पिछले साल दिसंबर में मुख्यमंत्री का पद संभालने वाले भाजपा नेता ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी ने 2047 तक भारत को एक विकसित देश बनाने का आह्वान किया है और यह बजट इस लक्ष्य को साकार करने में एक मील का पत्थर साबित होगा.”

Advertisement सब्सक्राइब करें

साय ने कहा, "लोगों ने देखा है कि केंद्र सरकार ने देश के सर्वांगीण विकास का मार्ग प्रशस्त किया है. पिछले 10 वर्षों में 25 करोड़ लोगों को बहुआयामी गरीबी से बाहर निकालने में सफलता मिली है. साथ ही 1.40 करोड़ युवाओं को रोजगारोन्मुखी कार्यों में प्रशिक्षण और रोजगार दिया गया है."

सीएम ने कहा कि 2014 के बाद से, जब भाजपा पूर्ण संसदीय बहुमत के साथ केंद्र में सत्ता में आई, लोगों की आर्थिक स्थिति में काफी सुधार हुआ है. उन्होंने कहा, "लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है, जिसके परिणामस्वरूप इन वर्षों में भारतीयों की औसत आय 50 प्रतिशत तक बढ़ गई है."

मुख्यमंत्री ने कहा कि बजट में जनजातियों के लिए विशेष पहल का प्रस्ताव किया गया है और यह समावेशी विकास को बढ़ावा देगा और युवाओं को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर प्रदान करेगा.

दीपक बैज ने बताया निराशाजनक

पीसीसी प्रमुख दीपक बैज ने बजट को निराशाजनक बताया है. उन्होंने कहा, “पिछले 9 सालों की तरह इस चुनावी वर्ष में भी मोदी सरकार का झूठ, जुमले और झांसे का बजट. जनता के लिए ना कोई राहत, ना कोई रियायत और ना ही बेलगाम महंगाई, बेरोजगारी और आर्थिक असमानता से निपटने के लिए कोई रोड मैप. आम आदमी की अपेक्षाओं के विपरित घोर निराशाजनक बजट.”

ओपी चौधरी ने क्या कहा?

वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने भी अंतरिम बजट पर अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने अमृतकाल के फाउंडेशन को रखने का काम किया है. आने वाले दो दशकों में किस रणनीति के तहत हम आगे बढ़ेंगे, इसका रोड मैप जुलाई में आने वाले पूर्ण बजट में तय होगा.

उन्होंने आगे कहा कि भारत एक विकसित राष्ट्र है उसकी नींव रखने का काम यह बजट करेगा. भारत में इनोवेशन कल्चर को नॉलेज का हब बनाया जा रहा है. वहीं कांग्रेस की बजट पर दी हुई प्रतिक्रिया पर वित्त मंत्री ने कहा कि ना कांग्रेस समझ सकती है और ना ही समझना चाहती है, ना ही आपको बताना चाहती है, कांग्रेस की स्पष्ट नीति रही कि लूटो और लूटवाओ. पीएम मोदी ने भी स्पष्ट कहा है कि ना खाऊंगा ना खाने दूंगा. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने साफ कहा है कि एक श्वेत पत्र लाया जाएगा. श्वेत पत्र लाने से कांग्रेस पूरी तरह एक्सपोज होगी. इस श्वेत पत्र में इसका खुलासा होगा.

तीसरी अर्थव्यवस्था की ओर अग्रसर करने वाला बजट: विजय शर्मा

उपमुख्यमंत्री विजय शर्मा ने अंतरिम बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि निर्मला सीतारमण के बजट का लोहा तो पूरी दुनिया मान रही है, मोदी जी की सरकार आने से पहले देश में एक दो एम्स अस्पताल ही थे अब 21 एम्स हैं. प्रतिदिन 35 किलोमीटर की नेशनल हाइवे बन रही है. ब्राह्मोस मिसाइल हम अब एक्सपोर्ट कर रहे हैं.  डिप्टी सीएम ने कहा कि यह बजट विश्व की तीसरी अर्थव्यवस्था की ओर अग्रसर करने वाला है.

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ने क्या कहा?

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंह देव ने कहा कि यह भारत का सम्मान बढ़ाने वाला बजट है. उन्होंने विपक्ष पर भी तंज कसा. देव ने कहा, “बजट को लेकर विपक्ष को जैसी प्रतिक्रिया देनी चाहिए वैसी उन्होंने दी है. लेकिन पूरे देश को विकास की दृष्टि से दुनिया के मानचित्र में सबसे ऊंचे स्थान पर भारत का गौरव, भारत का सम्मान बढ़ाने के लिए विभिन्न क्षेत्रों, विभिन्न वर्गों और समाज के लिए है ये बजट है. पीएम मोदी के कार्यक्रम और कार्ययोजना के माध्यम से भारत सोने की चिड़िया और विश्वगुरु बनने की ओर अग्रसर है.”

बजट पर निराश हुए सिंहदेव, कही ये बात...

बजट को पूर्व सीएम टीएस सिंहदेव ने निराशाजनक करार दिया है. उन्होंने कहा कि इस बजट से बहुत उम्मीदें थी लेकिन इसमें ऐसी कोई नई घोषणा नहीं हुई. उन्होंने कहा, “चुनाव से पहले और मोदी जी का बजट है तो ऐसा लग रहा था कि कुछ विशेष बाते होंगी. ऐसी कोई नई घोषणा नहीं हुई. राम जी के मंदिर की जो भी गतिविधियां रहीं उसके बाद जो ऐलान किया था कि एक करोड़ घरों में सोलर पैनल लगाएंगे. इसके अलावा और भी कोई बात नहीं आई. मुझे ऐसी उम्मीद नहीं थी. इतना निराशाजनक, कुछ भी नहीं, कोई दिशा नहीं...”

यह बजट लोगों को झुनझुना पकड़ाने का काम कर रहा है: सुशील आनंद शुक्ला

बजट को लेकर कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि यह बहुत ही निराश करने वाला है. पिछले 10 साल के नियमित बजट में कोई कार्य योजना  दिखाई नहीं दी. सुशील आनंद शुक्ला ने आगे कहा कि इस बजट में भी लोगों को कोई राहत मिलती नहीं दिख रही है. न  नौकरी पेशा लोगों को और न ही व्यावसायिक वर्ग के लोगों को राहत मिल रही है. यह बजट लोगों को झुनझुना पकड़ाने का काम कर रहा है. बीजेपी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि 10 साल में आप लोगों ने कितने लोगों को मकान दिए हैं उनके बारे में तो बात कर लो.

बजट में क्या है?

अंतरिम बजट में वित्त मंत्री सीतारमण ने बुनियादी ढांचे पर 11.11 लाख करोड़ रुपये खर्च करने की घोषणा की और सुधार जारी रखने का संकल्प लिया क्योंकि उन्होंने आम चुनावों से पहले मोदी सरकार के आखिरी बजट में लोकलुभावन उपायों का सहारा लेने का विरोध किया, इसके बजाय फोकस समूहों के लिए उपायों को मजबूत करते हुए घाटे में कटौती के रास्ते पर बने रहने का विकल्प चुना.

उन्होंने व्यक्तियों और कॉरपोरेट्स के लिए आयकर दरों के साथ-साथ आयात शुल्क में कोई बदलाव नहीं करने का प्रस्ताव रखा, लेकिन छोटे करदाताओं को राहत के रूप में 2014-15 से पहले की अवधि की विवादित आयकर मांगों के लिए माफी की पेशकश की.

लोकसभा में अपने करीब एक घंटे लंबे बजट भाषण में उन्होंने पिछले 10 वर्षों में विभिन्न क्षेत्रों में सरकार की उपलब्धियां गिनाईं और पर्यटन, आवास और नवीकरणीय ऊर्जा को बढ़ावा देने के उपायों की घोषणा की.

इसे भी पढ़ें- Chhattisgarh Mahtari Vandan Yojana Update: क्या है महतारी वंदन योजना, किन महिलाओं को मिलेगा फायदा?

Advertisement
छत्तीसगढ़ की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए छत्तीसगढ़ Tak पर क्लिक करें.
Tags :
Advertisement
×

.

tlbr_img1 होम tlbr_img2 वीडियो tlbr_img3 शॉर्ट्स tlbr_img4 वेब स्टोरीज