For the best experience, open
https://m.chhattisgarhtak.in
on your mobile browser.
Advertisement Whatsapp share

क्यों भड़के बघेल, पायलट और बैज? बात सुबाहु और मारीच तक पहुंच गई

01:27 PM Jan 23, 2024 IST | ChhattisgarhTak
Advertisement
क्यों भड़के बघेल  पायलट और बैज  बात सुबाहु और मारीच तक पहुंच गई
सीएम भूपेश बघेल

Chhattisgarh News: अयोध्या में रामलला मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर देशभर में जश्न का माहौल है. वहीं दूसरी ओर असम में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान असम में कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को मंदिर में दर्शन करने जाने से रोकने को लेकर सियासत तेज हो गई है. पहले ही अयोध्या में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह से दूरी बनाए जाने को लेकर कांग्रेस पर बीजेपी आरोप लगाती रही है. अब असम में मंदिर जाने से रोकने को लेकर अपने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट कर कांग्रेस ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला. कांग्रेस ने एक्स पर लिखा है- "आज BJP सरकार राहुल गांधी जी को मंदिर जाने से रोक रही है. BJP सरकार को आस्था पर पहरा लगाने का हक किसने दिया? यह अन्याय है, हम इसके खिलाफ लड़ते रहेंगे."

Advertisement

धार्मिक स्थलों पर भी इनका नियंत्रण चलेगा क्या?

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री Bhupesh Baghel ने भी बीजेपी को आड़े हाथ लेते हुए कहा, उन्होंने राहुल गांधी को मंदिर दर्शन से रोके जाने को लेकर अति का अंत निश्चित होने तक की चेतावनी दे दी है. एक्स पर भूपेश बघेल ने लिखा है कि- "मंदिर जाने से रोकना? समझ क्या रखा है? अब धार्मिक स्थलों पर भी इनका नियंत्रण चलेगा क्या? ये गुंडागर्दी ज़्यादा दिन की नहीं हैं. समझ लीजिए. जब कोई सुबाहु और मारीच किसी को पूजा, यज्ञ करने से रोकते हैं, तब-तब प्रभु श्री राम उसका वध करते हैं. अति का अंत निश्चित है." भूपेश बघेल ने तो यहां तक कह दिया कि बीजेपी को लोकतंत्र में विश्वास नहीं है.

पायलट बोले आस्था पर पाबंदी क्यों?

वहीं छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी सचिन पायलट (sachin pilot ) ने कांग्रेस की भारत जोड़ों यात्रा में राहुल गांधी को रोकने पर जमकर तंज कसा है. उन्होंने एक्स पर लिखा है कि
"असम में @RahulGandhi जी को आज सुबह श्री श्री शंकरदेव जी के जन्मस्थान के दर्शन करने जाना था। अचानक ही पुलिस ने उनको वहाँ जाने से रोक दिया है। जब मंदिर में दर्शन का कार्यक्रम पहले से निर्धारित था तो आखिर राहुल जी को दर्शन करने से रोकने का क्या मकसद है? आस्था पर पाबंदी क्यों? यह अधिकारों का हनन है और पूर्णतः ओछि राजनीति है। यह स्पष्ट है कि, असम में राहुल जी और ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ की लोकप्रियता से भाजपा डरी हुई है। इस अन्याय का पुरजोर तरीके से हम विरोध करते है।"

Advertisement सब्सक्राइब करें

अन्याय के खिलाफ हम लड़ते रहेंगे- बैज

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज (Deepak Baij) ने लिखा है कि- "रघुपति राघव राजा राम, पतित पावन सीता राम। राहुल गांधी जी मंदिर के सामने बैठे, उन्हें अंदर जाने से रोका गया। यह अन्याय है, हम इसके खिलाफ लड़ते रहेंगे।"

बता दें लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा निकाल रही है. कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी को मंदिर में जाने से रोके जाने को लेकर जमकर हमलावार है. ऐसे में आने वाले लोकसभा चुनाव में अयोध्या राम मंदिर के मुद्दे को लेकर जहां बीजेपी कांग्रेस को घेरते दिख रही है. वहीं कांग्रेस को भी मंदिर में प्रवेश ना देने से बैठे बिठाए मुद्दा मिल गया है.

Advertisement
छत्तीसगढ़ की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए छत्तीसगढ़ Tak पर क्लिक करें.
Tags :
Advertisement
×

.

tlbr_img1 होम tlbr_img2 वीडियो tlbr_img3 शॉर्ट्स tlbr_img4 वेब स्टोरीज