For the best experience, open
https://m.chhattisgarhtak.in
on your mobile browser.
Advertisement Whatsapp share

छत्तीसगढ़ में धान खरीदी की बढ़ेगी तारीख? क्या बैज और बघेल की बात मानेंगे सीएम साय

05:10 PM Jan 25, 2024 IST | ChhattisgarhTak
Advertisement
छत्तीसगढ़ में धान खरीदी की बढ़ेगी तारीख  क्या बैज और बघेल की बात मानेंगे सीएम साय
मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय, पीसीसी प्रमुख दीपक बैज, पूर्व सीएम भूपेश बघेल

Chhattisgarh Congress on Dhan Kharidi: छत्तीसगढ़ में विपक्षी कांग्रेस ने राज्य में धान खरीदी अभियान को 1 मार्च तक बढ़ाने की मांग की है और दावा किया है कि पांच लाख से ज्यादा किसानों ने अभी तक अपनी उपज नहीं बेची है. धान खरीदी को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज (Deepak Baij) और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने विष्णुदेव साय के नेतृत्व वाली सरकार से इसकी समयसीमा बढ़ाने की मांग की है. दरअसल, पिछले साल 1 नवंबर को शुरू हुआ खरीद अभियान 31 जनवरी को समाप्त होने वाला है.

Advertisement

सांसद दीपक बैज ने बुधवार को एक बयान में कहा कि धान खरीद अभियान को 1 मार्च तक बढ़ाया जाना चाहिए ताकि खरीद का लक्ष्य हासिल किया जा सके और किसान अपनी उपज बेच सकें. उन्होंने दावा किया कि पांच लाख से ज्यादा किसानों ने अभी तक अपना धान नहीं बेचा है.

बघेल ने भी साय से की अपील

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेश बघेल ने भी साय सरकार से अपील की है कि अगर किसानों की धान की बीक्री नहीं हुई है तो सरकार को धान खरीदी की समय सीमा बढ़ा देनी चाहिए. बता दें कि धान की बिक्री को लेकर किसान असमंजस की स्थिति में है. क्योंकि धान खरीदी में अब कुछ ही दिन बाकी है. वहीं धान की कीमत को लेकर भी सरकार की ओर से अभी कोई आदेश जारी नहीं हुआ है.

Advertisement सब्सक्राइब करें

दीपक बैज ने क्या कहा?

बैज ने कहा कि पिछले साल दिसंबर में नवनिर्वाचित भाजपा सरकार द्वारा प्रति एकड़ 21 क्विंटल धान खरीदने का आदेश देने से पहले, बड़ी संख्या में किसान पिछली कांग्रेस सरकार द्वारा निर्धारित प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान पहले ही बेच चुके थे और उन्हें अभी भी प्रति एकड़ अतिरिक्त एक क्विंटल धान बेचना बाकी है.

‘150 लाख मीट्रिक टन धान की हो खरीद’

पिछली कांग्रेस सरकार ने खरीफ विपणन सीजन 2023-24 में 135 लाख मीट्रिक टन धान खरीद का लक्ष्य रखा था.

अब, प्रति एकड़ 21 क्विंटल खरीद के फैसले के बाद, खरीद लक्ष्य भी बढ़ जाएगा. बैज ने कहा कि किसानों से कम से कम 150 लाख मीट्रिक टन की खरीद की जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि इसलिए धान खरीद अभियान को एक माह बढ़ाया जाना चाहिए.

बैज ने लगाया धान खरीद केंद्रों पर कुप्रबंधन का आरोप

बैज ने धान खरीद केंद्रों पर कुप्रबंधन का भी आरोप लगाया. उन्होंने दावा किया कि किसानों को (उनके धान खरीदने के लिए) टोकन जारी करने और उपज की तौल करने की प्रक्रिया धीमी हो गई है.

‘धान का प्रति क्विंटल 3,100 रुपये अभी तक नहीं मिला’

दीपक बैज ने आगे दावा किया, “जैसा कि भाजपा ने वादा किया था, किसानों को धान का प्रति क्विंटल 3,100 रुपये अभी तक नहीं मिला है और खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य (जो सामान्य ग्रेड धान के लिए 2,183 रुपये प्रति क्विंटल और ग्रेड ए धान के लिए 2,203 रुपये है) पर की जा रही है.”

बैज ने कहा कि पिछले महीने विधानसभा के शीतकालीन सत्र में राज्य की भाजपा सरकार के पेश किए गए अनुपूरक बजट में, धान खरीद के लिए कोई वित्तीय प्रावधान नहीं किया गया था. बैज ने मांग करते हुए कहा कि किसानों को प्राथमिकता के आधार पर 3,100 रुपये प्रति क्विंटल प्रदान किया जाना चाहिए.

क्या बढ़ेगी धान खरीदी की तारीख?

धान खरीदी को लेकर कांग्रेस की इस मांग के बाद यह सवाल उठता है कि क्या बीजेपी धान खरीदी की समय सीमा बढ़ाएगी? दरअसल, मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय भी कई मौकों पर बोल चुके हैं कि अगर जरूरत पड़ेगी तो धान खरीदी की तारीख आगे बढ़ाएंगे. ऐसे में किसानों के लिए सरकार कब बड़ा फैसला लेगी यह सबसे बड़ा सवाल है.

इसे भी पढ़ें- Chhattisgarh Dhan Kharidi: ‘नहीं हो रही है प्रति एकड़ 21 क्विंटल धान की खरीदी’, किसानों ने साय सरकार पर लगाया बड़ा आरोप

Advertisement
छत्तीसगढ़ की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए छत्तीसगढ़ Tak पर क्लिक करें.
Tags :
Advertisement
×

.

tlbr_img1 होम tlbr_img2 वीडियो tlbr_img3 शॉर्ट्स tlbr_img4 वेब स्टोरीज