For the best experience, open
https://m.chhattisgarhtak.in
on your mobile browser.
Advertisement Whatsapp share

स्पेशल-26 की तर्ज पर ईडी के फर्जी अधिकारी बन व्यापारी से 2 करोड़ ठगने वाले 9 ठग अरेस्ट

03:50 AM Jul 07, 2023 IST | ChhattisgarhTak
Advertisement
स्पेशल 26 की तर्ज पर ईडी के फर्जी अधिकारी बन व्यापारी से 2 करोड़ ठगने वाले 9 ठग अरेस्ट

Durg news: छत्तीसगढ़ में इन दिनों ईडी की कार्रवाई के खूब चर्चे हैं. लेकिन पिछले दिनों दुर्ग जिले के मोहन नगर थाना क्षेत्र में ईडी का अधिकारी बनने का ढोंग रच ऐसी ठगी की गई कि पूरा प्रदेश चौंक गया. अक्षय कुमार की फिल्म स्पेशल-26 की तर्ज पर ईडी का फर्जी अधिकारी बनकर 5 लोग पहुंचे और एक कारोबारी को डरा धमकाकर उससे 2 करोड़ रुपये की उगाही की फिर फरार हो गए.

Advertisement

बताया जा रहा है कि इन फर्जी ईडी के अधिकारियों ने दुर्ग शहर के धान व्यापारी विनीत गुप्ता को नकली आई कार्ड दिखाकर डराया और ठगी की. व्यापारी विनीत ने इसकी शिकायत मोहन नगर थाना में की थीय. पुलिस ने जांच शुरू की, तो पता चला कि यह फर्जीवाड़ा दुकान में लग CCTV कैमरे में कैद हो गया था.

इससे दुर्ग पुलिस को कुछ हद तक सफलता मिली और आरोपियों तक पहुंचने का क्लू भी मिला. पुलिस द्वारा अलग-अलग टीम बनाई गई और उन्हें मुंबई रवाना किया गया. दुर्ग पुलिस तीन दिनों के अंदर इस गिरोह के 3 लोगों को पकड़ने में सफल रही. पकड़े गए आरोपियों की निशानदेही पर 6 अन्य आरोपियों को भी मुम्बई में धर दबोचा गया.

Advertisement सब्सक्राइब करें

जानिए ठगी की इस पूरी कहानी को

ये फर्जी ईडी के अधिकारी मुंबई से किसी एजेंट के जरिये दुर्ग आए हुए थे. एजेंट इन्हें छत्तीसगढ़ के बड़े व्यापारियों के बारे में जानकारी देता था. आरोपियों ने एजेंट को यह बताया था कि अगर वो बड़े व्यापारियों को प्लान में पैसे इन्वेस्ट करने के लिए मना लेता है तो उसे भी बड़ा मुनाफा मिलेगा. एजेंट को इस बात का कोई अंदाजा नहीं था कि ये आरोपी इस प्रकार की घटना को अंजाम देंगे.

एजेंट ने दुर्ग के कुछ व्यापारियों को प्लान में पैसे लगाने के लिए मना लिया. इसके बाद सभी व्यापारी पैसे इकट्ठे कर दुर्ग के धान व्यापारी विनीत गुप्ता के ऑफिस में आए. 27 जून को अचानक धान व्यापारी विनीत गुप्ता के ऑफिस के सामने काले रंग की स्कॉर्पियों गाड़ी आकर रुकी. इससे 5 लोग उतरते हैं. ये लोग सीधे व्यापारी विनीत गुप्ता के ऑफिस में घुस जाते हैं और नकली आईडी कार्ड दिखाकर खुद को ईडी का अधिकारी बताने लगते हैं.

इसके बाद आरोपियों ने बैग में रखे दो करोड़ नकद रुपए उठाये और विनीत गुप्ता को साथ में चलने को कहा. गाड़ी में बैठने के बाद ये लोग महाराष्ट्र की ओर जाने लगे और राजनांदगाव के पास व्यापारी विनीत गुप्ता को बीच सड़क में उतार कर रफूचक्कर हो जाते हैं. इनके पकड़े जाने के बाद एसपी दुर्ग शलभ सिन्हा ने कहा कि मैं लोगों से यही अपील करूंगा की ईडी हो या कोई भी केंद्रीय जांच एजेंसी हो, उनकी एक प्रक्रिया है, जिस प्रक्रिया के तहत वो कार्रवाई करते हैं. अगर आपको लगता है ऐसी कोई सूचना मिलती है, तो यह ध्यान रखें कि कार्रवाई नियमसंगत तरीके से होती है. जब्ती वगैरह सबकुछ नोटिस दे कर और लिखा-पढ़ी करके होती है. इस तरीके से हड़बड़ी में कोई पैसे लेकर नहीं जाता. उन्होंने लोगों से सतर्क रहने की अपील की ताकि ठग घबराहट का फायदा न उठा पाएं.

Advertisement
छत्तीसगढ़ की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए छत्तीसगढ़ Tak पर क्लिक करें.
Tags :
Advertisement
×

.

tlbr_img1 होम tlbr_img2 वीडियो tlbr_img3 शॉर्ट्स tlbr_img4 वेब स्टोरीज