For the best experience, open
https://m.chhattisgarhtak.in
on your mobile browser.
Advertisement Whatsapp share

न्यूज एकंर सलमा का नरकंकाल बरामद, लेकिन सस्पेंस अभी बाकी...

11:20 AM Aug 23, 2023 IST | गेंदलाल शुक्ल
Advertisement
न्यूज एकंर सलमा का नरकंकाल बरामद  लेकिन सस्पेंस अभी बाकी
न्यूज एंकर सलमा सुल्ताना

Anchor Salma Sultana Murder Case-छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh News) के कोरबा (Korba) जिले से 5 साल पहले लापता हुई न्यूज एंकर सलमा सुल्ताना की हत्या मामले में सस्पेंस खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. मामले में इनपुट मिलने के बाद पुलिस ने भले ही नरकंकाल बरामद कर लिया लेकिन अभी इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है कि यह अवशेष सलमा का है या नहीं. मंगलवार शाम को पुलिस-प्रशासन की मौजूदगी में कोरबा-दर्री मार्ग पर कराई गई घंटों की खुदाई में नरकंकाल बरामद हुआ. जेसीबी मशीन से खुदाई के दौरान चादर में लिपटा नरकंकाल बाहर निकाला गया. लेकिन अभी पुलिस का कहना है कि डीएनए जांच के जरिए पता लगाया जाएगा कि यह नरकंकाल सलमा का है या किसी और का.

Advertisement

साल 2018 में उस वक्त सनसनी फैल गई थी जब मशहूर एंकर सलमा सुल्ताना अचानक गायब हो गई थीं. अब इस घटना के पांच साल बाद अब पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. पुलिस के अनुसार सलमा की हत्या हो चुकी है. पुलिस ने हत्या के आरोप में तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है. बता दें कि कोरबा के कुसमुंडा की रहने वाली 18 साल की सलमा सुल्ताना कोरबा के केबल चैनल में न्यूज एंकर थी. 10 वीं पास करने के बाद वो टीवी स्क्रीन पर आ गई थी.

‘आरोपी के 200 से ज्यादा लड़कियों से रिश्ते’

अपनी जांच में पुलिस ने कई चौंकाने वाले खुलासे भी किए हैं. इसके मुताबिक आरोपी मधुर साहू के 200 से ज्यादा लड़कियों से संबंध थे. पुलिस का कहना है कि आरोपी लड़कियों को अपनी जाल में फंसाता था. आरोपी ने सलमा सुल्ताना को भी प्रेमजाल में फंसाया. लेकिन जब सलमा ने मधुर पर शादी का दबाव बनाया तो वह मुकर गया. आरोपी ने उससे पीछा छुड़ाने के लिए उसकी गला घोंट कर हत्या कर दी.

Advertisement सब्सक्राइब करें

ऐसे दिया था वारदात को अंजाम

आरोपी ने बड़ी चालाकी से वारदात को अंजाम दिया था. 21 अक्टूबर 2018 को कोतवाली इलाके के शारदा विहार के उसके घर में चुनरी से गला घोंटकर सलमा की हत्या की गई थी. वारदात के वक्त मधुर साहू के साथ उसका साथी जिम ट्रेनर कौशल श्रीवास भी था. उन्होंने अपने तीसरे दोस्त की सहायता से सलमा की लाश को ठिकाने लगाया था.

परिजनों को ऐसे लगी भनक

काफी दिनों से सलमा के परिजनों का सलमा से संपर्क भी नहीं हुआ था. यहां तक कि 20 जनवरी 2019 में सलमा सुल्ताना के पिता का देहांत हुआ था लेकिन अंतिम संस्कार कार्यक्रम में भी सलमा मौजूद नहीं थी. इस तरह पिता के अंतिम संस्कार में सलमा का वहां नहीं सबको हैरान-परेशान कर रहा था. लिहाजा परिजनों ने किसी अनहोनी की आशंका में कुसमुण्डा थाने में सलमा की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई.

आईपीएस गुड़िया की पड़ी नजर और बाहर आए दफ्न राज

ऐसे तो कई साल तक यह मामला पुलिस की फाइलों में धूल खाता रहा. लेकिन कोरबा पुलिस में तैनात आईपीएस और सिटी एसपी रॉबिन्सन गुड़िया की नजर सलमा की फाइल पर पड़ी. दरअसल, मार्च 2023 में इन्हीं आईपीएस अधिकारी  ने राज्य स्तरीय ऑपरेशन मुस्कान में लापता इंसान, महिलाओं और बच्चों की तलाश करने की मुहिम शुरू की थी. इसी कड़ी में थाना कुसमुण्डा की लापता हुई सलमा सुल्ताना की केस डायरी की भी बारीकी से जांच शुरू की गई. इस दौरान पता चला यूनियन बैंक से सुल्ताना ने कर्ज लिया था. इसे लेकर यूनियन बैंक से जानकारी हासिल की गई. बैंक से पता चला कि अभी भी बैंक अकाउंट में पैसा डिपोजिट हो रहा है और यह पैसा ईएमआई के तौर पर गंगाश्री जिम का मालिक और जिम इंस्ट्रक्टर मधुर साहू जमा करवा रहा है. इस अहम जानकारी के मिलते ही कुसमुण्डा पुलिस ने मधुर साहू का पता लगाया लेकिन वह अपने घर से फरार हो गया था. पुलिस ने मधुर साहू और गुमशुदा सलमा से संबंधित उनके सभी दोस्तों और परिचितों का बयान लिया. पुलिस ने सलमा सुल्ताना के 05 साल पहले के मोबाइल सीडीआर भी एनालिसिस किए.  इस तरह कड़ी से कड़ी जुड़ती गई और पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया.

इसे भी पढ़ें: पाली थाना क्षेत्र में मिला नरकंकाल, पुलिस के लिए बनी पहेली

Advertisement
छत्तीसगढ़ की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए छत्तीसगढ़ Tak पर क्लिक करें.
Tags :
Advertisement
×

.

tlbr_img1 होम tlbr_img2 वीडियो tlbr_img3 शॉर्ट्स tlbr_img4 वेब स्टोरीज