For the best experience, open
https://m.chhattisgarhtak.in
on your mobile browser.
Advertisement Whatsapp share

Mahadev Betting Case: सट्टेबाजी मामले में चार्जशीट दाखिल, सौरभ चंद्राकर समेत 14 लोगों को ED ने बनाया आरोपी

05:03 PM Oct 21, 2023 IST | ChhattisgarhTak
Advertisement
mahadev betting case  सट्टेबाजी मामले में चार्जशीट दाखिल  सौरभ चंद्राकर समेत 14 लोगों को ed ने बनाया आरोपी
महादेव सट्टेबाजी मामले के आरोपी सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल/ तस्वीर: इंडिया टुडे

Mahadev Betting App Case- प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शुक्रवार को महादेव ऐप सट्टेबाजी मामले में पहली चार्जशीट दाखिल की. ऑनलाइन सट्टेबाजी ऐप के प्रमोटर सौरभ चंद्राकर (Sourabh Chandrakar) और उनके सहयोगी रवि उप्पल (Ravi Uppal)  उन 14 लोगों में शामिल हैं जिन्हें एजेंसी ने आरोपपत्र में आरोपी के रूप में नामित किया है.

Advertisement

आरोपपत्र रायपुर की एक विशेष पीएमएलए अदालत में दायर किया गया और इसमें सबूत के रूप में लगभग 8,887 पृष्ठ हैं.

Advertisement सब्सक्राइब करें

ईडी ने इन 14 लोगों को बनाया आरोपी

ईडी अधिकारियों के मुताबिक, आरोप पत्र में जिन लोगों के नाम हैं, उनमें सौरभ चंद्राकर, रवि उप्पल, विकास छापरिया, चंद्रभूषण वर्मा, सौरभ चंद्राकर के भाई सतीश चंद्राकर, अनिल दम्मानी, सुनील दम्मानी, विशाल आहूजा, धीरज आहूजा, पुनाराम वर्मा, शिव कुमार वर्मा, पुनाराम वर्मा, यशोदा वर्मा और पवन नथानी शामिल हैं.

6,000 करोड़ की आय का अनुमान

जांच एजेंसी के अनुसार, अपराध की आय लगभग 6,000 करोड़ रुपये हो सकती है और कुल 41 करोड़ रुपये पहले ही अस्थायी रूप से अटैच किए जा चुके हैं. सूत्रों ने बताया कि एक और आरोप पत्र दायर किया जाएगा जिसमें मामले में शामिल अभिनेताओं और राजनेताओं और उनके बयानों का विवरण शामिल होगा.

क्या है महादेव सट्टेबाजी मामला?

सौरभ चंद्राकर और उनके सहयोगी रवि उप्पल ने महादेव बुक ऐप ब्रांड के तहत कई वेबसाइट और ऐप की स्थापना की, जो ऑनलाइन कैसीनो और सट्टेबाजी प्लेटफॉर्म प्रदान करती है. यह भारत में अवैध गतिविधियों में आती हैं. माना जाता है कि छत्तीसगढ़ के रहने वाले दोनों दुबई में छिपे हुए हैं.  कंपनी की पूरे भारत में हजारों फ्रेंचाइजी हैं, जिनमें सबसे ज्यादा संख्या छत्तीसगढ़ में है. ईडी और छत्तीसगढ़ पुलिस ने अगस्त में दोनों के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर (एलओसी) जारी किया था. अगर वे भारत में प्रवेश करने का प्रयास करते हैं तो एलओसी पर उनकी गिरफ्तारी हो सकती है.

मामले में बॉलीवुड हस्तियां भी शामिल

इस मामले में कथित संलिप्तता को लेकर कई बॉलीवुड हस्तियां और गायक ईडी की जांच के दायरे में हैं.  हुमा कुरेशी और हिना खान को ऐप के कथित प्रचार के लिए और कपिल शर्मा को पिछले सितंबर में दुबई में महादेव बुक ऐप की सक्सेस पार्टी में भाग लेने के लिए बुलाया गया था.

उनसे पहले, ईडी ने कथित तौर पर ऐप को प्रमोट करने के लिए रणबीर कपूर को भी तलब किया था. सूत्रों ने बताया कि अभिनेता ने प्रमोशन के लिए नकद पैसे लिए.

सितंबर में उन अभिनेताओं और गायकों का खुलासा हुआ था जो इस साल फरवरी में संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित सौरभ चंद्राकर के विवाह समारोह में शामिल हुए थे.  शादी में टाइगर श्रॉफ, सनी लियोन, आतिफ असलम, राहत फतेह अली खान, अली असगर, विशाल ददलानी, अली अवराम, भारती सिंह, नेहा कक्कड़, भाग्यश्री, कृति खरबंदा, नुसरत भरूचा और कृष्णा अभिषेक शामिल हुए थे.

(मुंबई से दिव्येश सिंह की रिपोर्ट)

इसे भी पढ़ें: Candy Crush और महादेव एप को लेकर बढ़ी सियासत, भिड़ गई बीजेपी-कांग्रेस

Advertisement
छत्तीसगढ़ की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए छत्तीसगढ़ Tak पर क्लिक करें.
Tags :
Advertisement
×

.

tlbr_img1 होम tlbr_img2 वीडियो tlbr_img3 शॉर्ट्स tlbr_img4 वेब स्टोरीज