For the best experience, open
https://m.chhattisgarhtak.in
on your mobile browser.
Advertisement Whatsapp share

Chhattisgarh Coal Liquor Scam Case: कोयला और शराब मामले में पूर्व विधायकों और मंत्रियों पर FIR, भड़के भूपेश बघेल

10:14 PM Jan 26, 2024 IST | सुमी राजाप्पन
Advertisement
chhattisgarh coal liquor scam case  कोयला और शराब मामले में पूर्व विधायकों और मंत्रियों पर fir  भड़के भूपेश बघेल
सीएम भूपेश बघेल

Chhattisgarh Coal liquor scam Case: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh News) में कथित कोयला और शराब घोटाले के मामले पर ईडी (ED)ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) में एफआईआर दर्ज कराई है. ईडी की ओर से दर्ज केस में कांग्रेस सरकार के पूर्व मंत्री, पूर्व विधायक, कई आईएएस अफसर और कांग्रेसी नेताओं के नाम भी शामिल है. ईडी ने कोयला घोटाले में 71 नामजद और शराब घोटाले में 35 लोगों को नामजद शामिल किया है. इस कार्रवाई के बाद पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सीएम विष्णुदेव साय पर निशाना साधा है.

Advertisement

एफआईआर पर भड़के भूपेश बघेल

कांग्रेस सरकार के दौरान पूर्व मंत्रियों के खिलाफ कथित शराब और कोयला घोटाले के मामले में FIR को लेकर पूर्व सीएम भूपेश बघेल भड़क गए. बघेल ने कहा कि लोकसभा चुनाव के पहले प्रदेश के कांग्रेस नेताओं को बदनाम करने ये साजिश है. जब इस मामले को लेकर पिछले 3 सालों से ईडी और आईटी जांच कर रहे थे. उस दौरान हमारे किसी भी नेता का नाम नहीं लिया गया था. अब हमारे कई नेताओं के खिलाफ एसीबी ने एफआईआर दर्ज किया है, ये षड़यंत्र है. उन्होंने कहा कि इस मामले में कांग्रेस नेता यूडी मिंज का नाम लिया गया है, क्योंकि उन्होंने वर्तमान मुख्यमंत्री विष्णु देव साय के खिलाफ चुनाव लड़ा था. बघेल ने सीएम विष्णुदेव साय पर छोटी सोच वाली मानसिकता के होने का आरोप लगाया है.

पूर्व मंत्रियों, विधायकों पर दर्ज हुई एफआईआर

शराब घोटाले के कथित में कांग्रेस सरकार के पूर्व आबकारी मंत्री कवासी लखमा, रायपुर के मेयर एजाज ढेबर के भाई अनवर ढेबर, अनिल टुटेजा, उनके बेटे यश टुटेजा, पूर्व सीएस विवेक ढांड समेत एक दर्जन से ज्यादा आबकारी अधिकारी के नाम शामिल हैं, वहीं कोयला घोटाले के कथित मामले में जेल में बंद रानू साहू, समीर विश्नोई, सौम्‍या चौरसिया, सुनील अग्रवाल, सूर्यकांत तिवारी, विनोद तिवारी, पूर्व मंत्री अमरजीत भगत, शिशुपाल सोरी, बृहस्पत सिंह, रामगोपाल अग्रवाल, भिलाई के विधायक देवेंद्र यादव, पूर्व विधायक यूडी मिंज, पूर्व विधायक गुलाब कमरो, चंद्रदेव राय, विजय भाटिया समेत 71 लोगों का नामजद किया है। यह एफआईआर ईडी अधिकारी संदीप कुमार की तरफ से 17 जनवरी को दर्ज कराई गई है।

Advertisement सब्सक्राइब करें

जानें अब तक कोल मामले में क्या हुआ?

छत्तीसगढ़ में कथित कोल घोटाले के लेकर ईडी ने बीते 3 सालों में ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए कई बार छापे मारे. अब तक ईडी ने कारोबारी सूर्यकांत तिवारी, सीएम सेकेट्रिएट की अधिकारी सौम्या चौरसिया, पूर्व आईएएस समीर बिश्नोई, रानू साहू समेत 11 लोगों को गिरफ्तार किया. इतना ही नहीं इस मामले में 200 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति अटैच भी की गई है. ईडी इसे मनी लॉन्ड्रिंग के अलावा इसे प्रदेश का बड़ा आर्थिक अपराध मानते हुए शिकायत प्रदेश की ACB से की थी.

इसे भी पढ़े: Chhattisgarh Coal liquor scam Case LIVE: ED ने लखमा, अमरजीत समेत 100 पर कराई FIR, मचा हड़कंप

Advertisement
छत्तीसगढ़ की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए छत्तीसगढ़ Tak पर क्लिक करें.
Tags :
Advertisement
×

.

tlbr_img1 होम tlbr_img2 वीडियो tlbr_img3 शॉर्ट्स tlbr_img4 वेब स्टोरीज