For the best experience, open
https://m.chhattisgarhtak.in
on your mobile browser.
Advertisement Whatsapp share

दंतेवाड़ा में मुठभेड़, दो महिला नक्सली ढेर, सात लाख का था इनाम

11:27 AM Sep 21, 2023 IST | ChhattisgarhTak
Advertisement
दंतेवाड़ा में मुठभेड़  दो महिला नक्सली ढेर  सात लाख का था इनाम
दंतेवाडा के पुलिस अधीक्षक गौरव राय

Dantewada Naxal Encounter-छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) के जवानों ने मुठभेड़ में बुधवार को दो महिला नक्सलियों को ढेर कर दिया. मौके से एक इंसास रायफल और एक बारा बोर रायफल हथियार बरामद किए गए हैं. मुठभेड़ में मारी गई एक नक्सली पर पांच लाख और एक पर दो लाख का इनाम था.

Advertisement

पुलिस को सूचना मिली थी छोटे हिड़मा के जंगलों में माओवादी नेता कैंप को संचालित कर रहे हैं. साथ ही नए लाल लड़ाकों को यहां ट्रनिंग दी जा रही है. पुलिस अधिकारियों ने तत्काल दो टीमों को गठन किया. डीआरजी और महिला बस्तर फाईटर टीम को रात में ही निकाला गया. इनको बैकअप देने के लिए अरनपुर कैंप से भी जवानों को रवाना किया.

दंतेवाडा के पुलिस अधीक्षक गौरव राय ने बताया कि डीआरजी और बस्तर फाइटर को दंतेवाड़ा और सुकमा के सीमावर्ती इलाको अरनपुर और नाहड़ी के जंगलों में बड़े पैमाने पर माओवादियों की उपस्थिति की सूचना मिली. यहां टीमों को भेजा गया. नक्सल कैंप की घेराबंदी के दौरन माओवादियों में ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी जिसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की. मुठभेड़ के दौरान दो इनामी महिला नक्सली मारी गईं. पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना स्थल से एक इंसास और 12 बोर की रायफल और गोला बारूद और बुलेट के साथ दैनिक उपयोगी सामान बरामद हुआ.

Advertisement सब्सक्राइब करें

30 जिंदा कारतूस समेत ये सामान हुए बरामद

मुठभेड़ के बाद कैंप से भारी मात्रा में सामग्री बरामद हुई है. एक हाईटेक कैमरा के साथ नाट्य मंडली का सामान और नक्सली साहित्य बरामद किया गया. इंसास के 30 जिंदा कारतूस भी पुलिस ने बरामद किए है. इसके अलावा हैंड ग्रेनेट और टिफिन बम भी जब्त किया गया है. आधा दर्जन से अधिक नक्सली पिठ्ठू भी जब्त हुए है.

नक्सलियों को लग गई थी भनक!

जानकारी के अनुसार, पुलिस टीम जैसे ही माओवादी कैंप के पास पहुंची, इस बात की भनक माओवादियों को लग गई. उन्होंने भी मोर्चा संभाल लिया. अपने बड़े नक्सली नेताओं को सुरक्षित निकालने के लिए पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी. फोर्स ने भी माओवादी कैंप को घेरा था. दोनों और से करीब एक घंटे तक फायरिंग चली. इस मुठभेड़ में दो महिला माओवादी मारी गई, लेकिन वही दरभा डिवीजन का थिंक टैंक माने जाने वाला चैतू और टेक्रिकल टीम का इंचार्ज जगदीश के साथ  देवा और प्लाटून नंबर 30 का कमांडर जयलाल भागने में कामयाब हो गए.

लक्खे और मंगली पर था सात लाख का इनाम

मुठभेड़ में मारी गई महिला नक्सलियों में से एक की पहचान मलांगेर एरिया कमेटी सदस्या/एरिया मिलिशिया कमाण्ड इनचीफ कुमारी लक्खे उर्फ जिलो माड़वी पिता दुड़वा माड़वी 35 वर्ष निवासी चोलनार पटेलपारा थाना किरन्दुल जिला दन्तेवाड़ा के रूप में की गई है, जिस पर 5 लाख का इनाम घोषित था. जबकि दूसरी महिला के शव की पहचान प्लाटून 24 सदस्य (DVCM विमला की गार्ड) मंगली पदामी 25 वर्ष निवासी पैद्दागेलूर थाना बासागूड़ा जिला बीजापुर के रूप में हुई है. मंगली पर 2 लाख रुपये का इनाम है.

(दंतेवाड़ा से रौनक शिवहरे की रिपोर्ट)

इसे भी पढ़ें- ताड़मेटला मुठभेड़: जानें क्यों सवालों के घेरे में है यह एनकाउंटर? अब CM ने कही ये बात

Advertisement
छत्तीसगढ़ की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए छत्तीसगढ़ Tak पर क्लिक करें.
Tags :
Advertisement
×

.

tlbr_img1 होम tlbr_img2 वीडियो tlbr_img3 शॉर्ट्स tlbr_img4 वेब स्टोरीज